आपको इस Shilapak के आर्डर में चार जड़ी बूटियों का मिश्रण मिलेगा , आपको इस में से  से 1 – 1 चमच सुबह शाम दूध या पानी के साथ use करना है, आप चाहो तो स्वाद के लिए मिश्री मिला सकते हो, इसे खाना खाने से पहले या बाद में कभी भी ले सकते हो , पर जिन्हें अल्सर ( पेट में छाले ) है ? वो खाली पेट न ले, पानी या दूध की मात्रा आप अपने अनुसार ले सकते हो ! 

 

अब बात आती है सावधानियों की :-
वैसे प्राकृतिक पदार्थो का कोई साइड इफ़ेक्ट तो नहीं होता, फिर भी हमें अच्छे स्वास्थ्य के लिए कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए
1. महिलाए भी शिलामूल और कौंच बीज के मिश्रण को Sexual Desire बढ़ाने के लिए खाती है , पर इस रसायन में Asgandha और Shatavari नहीं मिलाया जाता ,
2. महिलाओ को गर्भावस्था के दोरान या फिर उनके कोई छोटा बच्चा है , जिसे वो स्तनपान कराती हो ? तो ऐसे वक्त में उन्हें sila pak उपयोग में नहीं लेना चाहिए ,
3. पर यदि आप मधुमेह, हाई बीपी, चिंता, अवसाद, हार्ट की बीमारियों , अन्य किसी सिरियस बीमारी की दवाई ले रहे है ? तो आपको वो दवाईया और शिला पाक चूर्ण दोनों एक साथ उपयोग में नहीं लेने चाहिए , क्योंकि जब आप ये शिला पाक उपयोग में लेते हो तो शरीर में नई उर्जा बनती है , खून और नए हार्मोन्स बनते है , जो की ये उन दवाइयों के साथ हस्तक्षेप कर सकते है ! इसलिए जब आपकी दवाई ख़त्म हो जाये तभी इसका उपयोग करना शुरू करे !
4. जिन लोगो को अल्सर की समस्या हो उन्हे खाली पेट shilapak का सेवन नहीं खाना चाहिए।
5. जिन लोगो को बवासीर की समस्या हो उन्हें कौंच बीज का सेवन कम करना चाहिए , तो उनके लिए ये बेहतर होगा की वो बिना कौंच वाला silapak खरीदे , खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करे

You will get a mixture of four herbs in this  order of silapak,

1. then use 1 – 1 teaspoon of this mixture in the morning & evening with milk or water, you can mix sugar to taste.  People who have ulcers (blisters in the stomach)? Do not take it empty stomach

Now it comes to the precautions: –
Well there is no side effects of natural substances, yet we should take care of some tips for good health.
1. Women can also eat shila pak to increase sexual desire, but in this Asgandha and Shatavari are not mixed,
2. If Women are pregnant or have a little child, which they breastfeed? So at that time they should not use them,
3. But if you are taking medicines of diabetes, high BP, anxiety, depression, heart diseases, and other serious illness? So you should not use both those medicines and shilapak powder together, because when you use silapak, there is a new energy , blood and new hormones are formed in the body, which Can do interfere with those medicines  So when your medicine is finished then start using it!
4. Those people who have ulcers problems should not eat empty stomach shilapak.
5. Those people who have problems with hemorrhoids, should reduce the consumption of conch seeds, it would be better for them to buy non-kaunch  shilapak, You can buy this by Clicking Her

 

Optional : Take white musli(250 grams), make a fine powder, Now daily take about 5 to 10 grams  white musli powder & about 100 to 200 ML milk,  Mix this musli powder & milk very well, if there is a mixer or juicer grinder in your house then Put musli powder and milk for 1 to 2 minutes, than consume silapak with this milk, This will get better result. 

 Optional : सफेद मुसली ( 250 gram )  लेना है , इसका बारीक़ पाउडर बनाना है, अब रोज लगभग 5 से 10  ग्राम इस सफ़ेद मुसली पाउडर को दूध में डाल कर बहुत अच्छे से मिक्स करना है, यदि आपके घर में मिक्सी या जूसर ग्राइंडर हो तो उस में सफ़ेद मुसली  और दूध डाल कर 1 से 2  मिनट के लिए चलाये , फिर इस दूध के साथ शिलापाक का सेवन करना है, इस से  ज्यादा अच्छा रिजल्ट मिलेगा 

Leave a Comment